शहीद के दरवाजे सीएम, मैंने अपना वायदा निभाया, योगी…

0
88

shaheed_1494568907लखनऊ उत्तर प्रदेश-  ऐसा लगता है कि अब तक पटरी से उतरी उत्तर प्रदेश की कानून व्यवस्था पर अब योगी सरकार ने कड़ा रुख अख्तियार करने का मन बना लिया है, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शुक्रवार को गोरखनाथ मंदिर में मीडिया से बातचीत के दौरान कहा कि सूबे की कानून व्यवस्था से खिलवाड़ करनें की इजाजत किसी को भी नहीं है, चाहे वह आम हो या खास, उन्होंने चेतावनी देने वाले लहजे में कहा कि लोगों की पुरानी आदतें अभी तक नहीं सुधरी हैं, उनकी आदतें सुधारने के लिए सूबे में बड़े स्तर पर प्रशासनिक फेरबदल भी किए जाएंगे, प्रदेश में बिगड़ती कानून व्यवस्था के सवाल पर उन्होंने कहा कि सूबे में कानून व्यवस्था पहले की तुलना में बहुत सुधरी है लेकिन अभी थोड़ी बहुत और सुधार करने की जरूरत है, उन्होंने कहा कि प्रदेश में किसी के साथ भेदभाव नहीं होगा लेकिन कानून से खिलवाड़ करने की इजाजत भी किसी को नहीं होगी, पहले सरकार की कार्यप्रणाली के कारण दंगे होते थे, अपराध बढ़ता था अपराधियों को संरक्षण प्राप्त होता था लेकिन अब ऐसा नहीं है, अब कहीं पर भी यदि कोई ऐसा करने काdeoria-prem-sagar-554x395 का प्रयास कर रहा है तो सख्ती से उसे रोका भी जा रहा है, उन्होंने आगे कहा कि पुलिस का आचरण ब्रिटिश शासन जैसा नहीं होना चाहिए लेकिन अगर कोई संवेदनशीलता का गलत फायदा उठाने की कोशिश करेगा तो ये चीजें बर्दास्त नहीं होगी, बसपा में चल रहे माया नसीम विवाद पर सीएम ने कहा कि यह एक पार्टी का विवाद है, मुझे लगता है कि इस विवाद से सबसे ज्यादा पीड़ा मान्यवर कांशीराम की आत्मा को हो रही होगी, क्योकि जिस उद्देश्य से उन्होंने बहुजन समाज का अभियान शुरू किया था वह अभियान अपने रास्ते से भटक गया है, बसपा से निष्कासित किये गए नेता नसीमुद्दीन सिद्धीकी द्वारा अपनी जान का खतरा बताए जाने के सवाल पर योगी ने कहा कि प्रदेश download (1)में हर व्यक्ति की सुरक्षा की जिम्मेदारी प्रदेश सरकार की है, साथ ही उन्होंने शहीदों की सहादत याद करते हुये कहा कि सैनिक की शहादत किसी भी स्वाभिमानी समाज के लिए सर्वोच्च सम्मान है,  उन्होंने देवरिया के शहीद प्रेम सागर के परिवारीजनों को 26 लाख रुपये की सहायता देते हुए उनका स्मारक बनाने के साथ ही शहीद के नाम पर राजकीय बालिका इंटर कॉलेज खोले जाने की भी बात कही, सीएम ने कहा कि मैंने परिवार से मिलने का वादा किया था जिसे मैंने निभाया है, प्रदेश सरकार के मंत्री सूर्य प्रताप शाही शहीद के अंतिम संस्कार में शामिल भी हुए थे.

व्यू इण्डिया टाइम्स से अजहर खान के साथ फैजुल हसन की रिपोर्ट 

LEAVE A REPLY