पकड़ा गया मृतक हीरा का हत्यारोपी,बेखौफ ने दरोगा पर तानी रिवाल्वर …………

0
268

उत्U._p._p._Ram_Ji_Dubey_20160126_145640[1]तरप्रदेश कानपुर  पुलिस का खौफ अपराधियों के सिर से किसतरह गायब हो रहा है इसका ताजा उदहारण कानपुर देहात के थाना अकबरपुर  की बारा चौकी क्षेत्र में देखने को मिला,जहाँ बेख़ौफ़ अपराधी ने  पुलिस पर ही रिवाल्वर तन दी,बताते चलें कि बर्रा दो राम-जानकी मंदिर के पास पिछले मंगलवार 19 जनवरी को किशोर हीरालाल को बेवजह छोटी सी बहस में एक युवक ने  चार गोलियां मारकर उसको मौत की नींद सुला दिया था और पुलिस के हाथ खाली थे,लेकिन इसd2c50fb6-5dd1-4236-a7e9-7835d291b57f घटना का  साइको किलर खुले आम घूम रहा था जिसे कानपुर देहात के कोतवाली अकबरपुर के बाराजोर टोल प्लाजा पर रविवार दोपहर वाहन चेकिंग के दौरान पकड़ लिया गया,बताते चलें कि  अकबरपुर के बाराजोर चौकी प्रभारी राजकुमार सिंह फोर्स के साथ टोल प्लाजा के पास में चेकिंग कर रहे थे,तभी कानपुर की ओर से आ रहे बाइक सवार को जब रुकने का इशारा किया गया तो वह भागने लगा इसी बीच हडबडाहट में वह डिवाइडर से टकराकर गिर गया,लेकिन जब एसआई रामजी दुबे जैसे ही  उसे  उठाने लगे तभी अचानक उसने पिस्टल निकाल कर उन पर तान दी,लेकिन तब तक पीछे से और फोर्स दौड़ कर आ गई और उस पर रायफलें तान कर उसे काबू में किया गया,मौके पर उसके कब्जे से .32 बोर की देशी पिस्टल व दो कारतूस बरामद हुए है,पुलिस ने बताया कि बाइक सवार युवक बेहद नशे में था और उसकी पहचान मो. शाह आलम पुत्र मुन्नू मास्टर निवासी 285/46 डबल स्टोरी कॉलोनी, सनिगवां कानपुर नगर के रूप में हुई है,पुलिस के अनुसार देर रात तक की गई पूछताछ के बाद उसने कबूला कि हीरालाल की हत्या उसी ने की थी,घटना के खुलासे के बाद कानपुर पुलिस उसे अब  रिमांड पर लेने की तैयारी में है,आशंका जताई जारही है कि सनिगवां गैंगरेप से भी उसके तार जुडे हो सकते है ,सूत्रों के अनुसार पकड़ा गया शाह आलम खतरनाक अपराधी है और पश्चिमी यूपी के अपराधियों के गैंग में भी शामिल है ,वहीं  इसके भाई भी गैंग में बताए जाते हैं,शाह आलम ने पुलिस को बताया कि उस पर कितने मुकदमे कहां-कहां दर्ज हैं उसे  खुद नहीं पता, पता चला है कि इसने कैसरबाग लखनऊ की आशा नाम की महिला से शादी की थी जो इस समय चरस के एक मामले में लखनऊ जेल में बंद है, आलम पर शहर के कई और थानों में करीब दो दर्जन मुकदमों के होने की बात का भी पता चला है.

व्यू इण्डिया टाइम्स से आशीष अवस्थी की रिपोर्ट 

LEAVE A REPLY